जानिए आप अपने बच्चों को कैसे बढ़ावा दे सकते हैं


आप अपने बच्चों को कैसे बढ़ावा दे सकते हैं

दोस्तों आज हम एक ऐसे टॉपिक के बारे में बात करने जा रहे है जिससे यह जानकारी मिलेगी कि "इंसान अपने बच्चों को कैसे बढ़ावा दे सकते हैं" अपने
बच्चों को बढ़ावा देने के लिए आपको उन्हे पूरी छूट देनी चाहिए जिससे वे अपनी हर बात आपके सात शेयर कर सके। दोस्तों अगर बच्चो की सोच अपने माँ बाप से मिलने लगती है तो वे बच्चे आगे चलकर एक योग्य इंसान के रूप में बड़े होते है और ऐसा तब ही होता है जब बच्चा अपने माँ बाप के साथ अपनी हर बात जाहिर करता हो।

आप अपने बच्चों को कैसे बढ़ावा दे सकते हैं   
       
कई बार ऐसा होता है कि बच्चे से अनजाने या बचपने के कारण कोई काम धर्म के खिलाफ हो जाता है और उस समय माँ बाप उसे भला बुरा कह देते है। लेकिन उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए बल्कि उसे उसके बारे में बताना चाहिए ताकि आगे से वो ऐसे काम करे। बच्चो के मुँह से निकली गलत बात पर उन्हें एकदम डाटना नहीं चाहिए क्योकि एकदम डाट पड़ने के बाद शायद कोई ही ऐसा होगा जो दोबारा आपको कुछ बात बताएगा और फिर आप भी उनसे अपनी सारी बाते शेयर नहीं कर पाओगे


कदम - कदम पर आपको अपने बच्चो का साथ देना होगा जिससे बच्चो का मनोबल बढ़ेगा। और आपको यह भी ध्यान देना होगा कि आपके बच्चे बड़ो की इज्जत कर रहे है या नहीं। अगर नहीं तो उनको डाटने की बजाय उन्हें यह बताना चाहिए कि "बड़ो की इज्जत करना हमारा धर्म होता है जैसे हम दुसरो की इज्जत करते है वैसे ही वे हमारी करेंगे।

दोस्तों हमारे बच्चे हमारे आने वाले देश का कल है और बड़े होकर इन बच्चो को ही अपने देश को संभालना है। इसलिए अपने बच्चो को पूर्णरूप से बढ़ावा दे और उन्हें एक उन्नति की राह दिखाए। जिससे वे अपनी जिम्मेदारी से पीछे हटे।


अपने बच्चों को बढ़ावा देने के आसान तरीके

खुलकर बाते करना - जब बच्चे आपस में बाते करते है तो बड़ो को अपने आप पर काबू रखना जरूरी है क्योकि जब बड़े बीच में नहीं बोलते तो बच्चे अपनी पूरी बात कह सकते है। दोस्तों घर का माहौल ऐसा होना चाहिए जिससे बच्चे अपनी बाते खुलकर कह सके। 

- बार बच्चो की गलती निकलना - अगर हम बच्चो को छोटीछोटी बातो पर डाटते है या उनकी गलती निकालते है तो बच्चो के मन में हमारे प्रति घृणा पैदा हो जाती है और जिसके कारण बच्चे बात करना भी पसंद नहीं करते।  इन्ही बातो के कारण कई बार  बच्चे बड़ी मुसीबतो में जाते है।  इसलिए बच्चो की छोटीछोटी बातो को अनदेखा करना चाहिए और उनको हर क्षेत्र में बढ़ावा देना चाहिए।

च्चों की हर प्रॉब्लम को शेयर करना - बच्चों की अच्छी परवरिस के लिए माँ बाप को उनकी हर प्रॉब्लम को बचपन से ही शेयर करना चाहिए। अगर हम ऐसा नहीं करेंगे तो बच्चे को अपनी प्रॉब्लम हल करने में बड़ी कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा।  जिससे वे अपने रास्ते से भटक भी सकते है। अगर हम बच्चो को बढ़ावा नहीं दे रहे है तो हम उनके साथ एक अच्छा रिस्ता भी कायम करने में असफल हो सकते है। हमे अपने बच्चो को इस तरह से बढ़ावा देना चाहिए जिससे वे हमारे अंदर की बातो को बिना सुने ही समझ सके और उन पर अमल कर सके।


दोस्तों पढ़ो उपरोक्त जानकारी पूर्ण रूप से और जानो अपने बच्चों को कैसे बढ़ावा दे।  इस आर्टिक्ल को पढ़ने के बाद अपने बच्चो को ऐसा रास्ता दिखाए जिससे वे अपनी हर बात आपसे कह सके और उसको आसानी से पूर्ण कर सके। 


Take a Look on Below Table

Government Jobs Private Jobs
Engineering Jobs 10th / 12th Pass Jobs
Employment News Rojgar Samachar
Railway Jobs in India Upcoming Sarkari Naukri
Upcoming Bank Jobs Graduate Degree Jobs
Written Exam Preparation Tips Career Management Tips
English Improvement Tips Interview Preparation Tips

0 comments:

Post a Comment