जानिए अप्रैज़ल मीटिंग में रखें किन बातों का अत्यधिक ख्याल


अप्रैज़ल मीटिंग में रखें किन बातों का अत्यधिक ख्याल

किसी भी जगह नौकरी प्रारम्भ करने से पहले वेतन पर बात करना जरूरी होता है। कंपनी आपको जो तनख्वाह ऑफर कर रही जरूरी नहीं कि आप उससे
खुश हों। अप्रैजल मीटिंग के दौरान भी आपको कंपनी में आपकी पोस्ट की अहमियत और किए गए कार्य को दर्शाना होता है। आपके द्वारा किये गए काम का प्रदर्शन ही आपके इंक्रीमेंट में महत्वपूर्ण योगदान दे सकता है। कुछ ऐसी आवश्यक बातें जो फ्रेशर्स को अपनी तनख्वाह या अप्रैजल के समय बातचीत करते समय ध्यान रखनी चाहिए।

appraisal meeting

एक कार्यकर्त्ता के लिए मनचाही सैलरी पाने से अधिक अच्छी बात और कुछ नहीं हो सकती। अप्रैज़ल के लिए अपने मैनेजर से बैठक करने से पहले कुछ बातें ध्यान में रखें ताकि अप्रैज़ल मीटिंग में अपनी बात को प्रभावी ढंग से कह सकें।

अप्रैज़ल मीटिंग के लिए खास टिप्स

अपने रोल को समझें: सबसे पहले company में अपने रोल को समझें अन्य कंपनियों में इसी तरह के पोस्ट के लिए सैलरी मेथड और सैलरी केटेगरी के बारे में जानकारी इकट्ठा करने की कोशिश करें। अपने बॉस या वरिष्ठ अधिकारी के सामने कंपनी में अपनी भूमिका को प्रभावी रूप से स्पष्ट करें।

आत्मनिरीक्षण करें: अपना आत्म विश्लेषण करना भी जरूरी है। यह जानने का प्रयास करें कि आपको कंपनी से क्या  अपेक्षा है और कंपनी आपसे क्या चाहती है। अपनी खूबियों का इंट्रोस्पेक्शन करें नेगोसिएशन में अपनी उपलब्धियों की चर्चा करें।


सही समय: सही टाइम देखकर कंपनी में अपनी उम्मीदों को अभिव्यक् करें। सुनिश्चित करें कि आपकी उम्मीदवारी और दक्षता ही आपको दिए गए कार्य के लिए ठीक है।

अपने आप को बनाए रखने के लिए अपने पहले प्रदर्शन अचीवमेंट्स का उपयोग करें। अपनी प्रतिबद्धता पर जोर देना फाइनेंसियल बाधाओं के संबध् में बात करने से आपकी नेगेटिव इमेज बन सकती है। आपको पेश किए जा रही सैलरी के फार्मेट को समझें। ऐसे प्लान्स बनाएं जिनसे आपको फायदा हो। आप योग् नही हैं तो अपने अप्रैज़ल को आगे बढ़ाएं। अपनी अप्रैज़ल बैठक को लंबा होने दें और किसी भी मुद्दे पर अड़ियल रवैया अपनाएं।


आपका मैनेजर जब उस पैकेज पर राज़ी हो जाए जो आप चाहते हैं, तब यह पेशकश साबित करती है कि आप नेगोसिएशन में कितने सक्सेस हुए। अगर दिया गया ऑफर आपकी अपेक्षा के अनुरूप है तो ही आप सफल हैं, अन्यथा नहीं।


अगर पेश किए गए इंक्रीमेंट से आप सहमत नहीं हैं। बाजार में उपलब् अवसर को देखें और सही अवसर के बारे सोचने की कोशिश करें। काउंटर प्रस्ताव भुनाने का सबसे अच्छा तरीका हैं कि करियर प्लानिंग, नौकरी की ज़रूरत और पैकेज जैसे महत्वपूर्ण तथ्यों पर विचार करें और फैसला लें।

सैलरी नेगोसिएशन में आप खुद अपनी एलिजिबिलिटी की परख करते हैं और उसी आधार पर अपना पैकेज तय करते हैं। इसके लिए ज़रूरी है कि आप सबसे पहले खुद का सही मूल्यांकन करें और इस बारे में किसी भी तरह की गलती की गुंजाइश रखें। अप्रैज़ल बैठक से पहले खुद के अंदर झाकिए और अपने मुताबिक अपनी सही वैल्यू तय कीजिए।

Take a Look on Below Table

Government Jobs Private Jobs
Engineering Jobs 10th / 12th Pass Jobs
Employment News Rojgar Samachar
Railway Jobs in India Upcoming Sarkari Naukri
Upcoming Bank Jobs Graduate Degree Jobs
Written Exam Preparation Tips Career Management Tips
English Improvement Tips Interview Preparation Tips

0 comments:

Post a Comment