पढाई करने के आसान तरीके – जानिए


जानिए पढाई करने के आसान तरीके

दोस्तो इस आर्टिकल की मदद से हम आपको बताने जा रहे कि परीक्षा के लिए सही रूप से पढ़ाई कैसे करे और अपना नाम वर्ल्ड में कैसे चमकाए। सबसे
पहले आप लोगो यह जानना जरूरी है कि आखिरकर पढाई में मन क्यों नहीं लग रहा है इसलिए नीचे हम कुछ साधारण कारण दे रहे है जिनसे पढ़ाई करने में बाधा बनी रहती है जो कुछ इस प्रकार है -
  • पढ़ाई का साधारण माहौल होना।
  • पढ़ने का सही टाइम ना होना।
  • पढ़ने के लिए सही सामान का ना होना।
  • सही मार्गदर्शन का ना होना।
  • दूसरे कार्यो में व्यस्त।
  • एकाग्रता का कम होना।
  • आत्मविश्वास का ना होना।
  • पढ़ाई का साधारण माहौल होना।
  • पढ़ने का सही टाइम ना होना।
  • पढ़ने के लिए सही सामान का ना होना।
  • सही मार्गदर्शन का ना होना।
  • दूसरे कार्यो में व्यस्त।
  • एकाग्रता का कम होना।
  • आत्मविश्वास का ना होना।

कारण - दोस्तों ऊपर कुछ करणो के बारे में जिक्र किया गया है जिनसे पढ़ाई करने में अधिक परेशानी होती है। इन सभी कारणों में से एक कारण है सही मार्गदर्शन का ना होना जो सबसे बड़ा कारण माना गया है दोस्तों अगर आप सही मार्गदर्शन से प्रतियोगीता की परीक्षा के लिए तैयारी नहीं कर रहे है तो आप उसमे सफल नहीं होंगे दोस्तों एक उदाहरण आपके लिए है - अगर आप दिल्ली जा रहे हो और सही रास्ता पता नहीं तो आप दिल्ली जा तो सकते है लेकिन इसमें ज्यादा समय लगेगा और पैसा भी ज्यादा खर्च होगा। इसलिए सही मार्गदर्शन से आप समय के साथ पैसा भी बचा सकते है और अपने लक्ष्य को आसानी से पूरा कर सकते  है।

अगर आप अच्छे से तैयारी शुरू करना चाहते है तो आपके लिए बहुत ज़रूरी है सही मार्गदर्शन। कई बार ऐसा होता है कि हम कठिन परिश्रम और बहुत कोशिस तो करते है लेकिन उसमें असफलता ही मिलती है। दूसरी तरफ कुछ लोग ऐसे होते है जो परिश्रम कम करते है और फिर भी वो सफलता प्राप्त कर लेते है। इसका कारण है सही मार्गदर्शन के साथ तैयारी करना। इसके लिए एक उदाहरण है कि हम लोग कील को उल्टा पकड़कर दिवार में ठोकने के लिए कितना भी प्रयास कर ले वो नहीं ठुक सकती और उसे सीधा ठोकने पर वह आसानी से ही ठुक जाती है। इसी तरह प्रतियोगीता की परीक्षा की तैयारी के लिए भी सही रास्ता चुनना बहुत जरूरी है।


तरीके - सबसे पहले तो पढ़ने के लिए जरूरी है अपना लक्ष्य तय करना क्योकि यह हमारे लिए एक प्रेरणा का कार्य करता है। अगर टारगेट तय ही नहीं है तो वहा सफलता डाउटफुल होगी। इसलिए एक निश्चित टारगेट होना बहुत ज़रूरी है। अगर आप कई टारगेट एक साथ ले कर चल रहे है तो वहाँ आपका मन भटक जाता है और पढ़ाई में मन नहीं लगता है। अपना लक्ष्य तय करने के बाद जरूरी है सही से तैयारी करना, मतलब अपने लक्ष्य से जुडी पूरी जानकारी के बारे में जानना, की परीक्षा कैसे होगी - जैसे -
  • पाठ्यक्रम क्या है?
  • पैटर्न किस तरह का है?
  • प्रश्न किस तरह के आते है?
  • सबक सारांश कहा से मिलेगा, कैसे मिलेगा?
  • तैयारी की रणनीति क्या होगी?
  • सफलता के लिए कितनी मेहनत ज़रूरी है?
  • सफल लोगो की क्या प्लानिंग रही थी ?

Read Also: जानिये कैसे करे बिना कोचिंग के Competition Exam की तैयारी

दोस्तों अगर आप इन सभी प्रश्नों के बारे में जानकारी रखते है तो आपकी परेशानी का आधा हल आपको मिल जायगा। फिर आधे हल के लिए आपको जरूरी है अपने कार्यक्रम को सही तरह से सेट करना मतलब एग्जाम के हिसाब से तैयारी करना। दोस्तों पढ़ाई का समय और घंटे अपनी क्षमता के अनुसार सेट करे जिससे आपका दिमाग भी फ्रेश रहे। सही समय की अवधि के साथ पालन करना जरूरी है और इसके लिए तुम आदर्श इंसान, आदर्श आर्टिकल्स, आदर्श किताबे आदि की मदद ले सकते है।

how to study

महत्वपूर्ण बातें - अगर एक अच्छी पढ़ाई चाहिए तो हमेशा कुर्सी मेज पर बैठ कर पढ़े, बेड पर लेटकर बिलकुल भी ना पढ़े। लेटकर पढ़ने से पढ़ा हुआ कभी भी दिमाग में नहीं बैठता,पढ़ने की बजाय नींद आने लग जाती है। पढ़ते हुए बहुत सी ऐसी बातो का ध्यान रखे जो इस प्रकार है -
  • पढ़ते समय टेलीविज़न, रेडियो और गाने चलाए।
  • पढ़ाई के समय मोबाइल से दूर रहे क्योकि यह पढ़ाई का दुश्मन है।
  • पढ़े हुए पाठ को लिखते भी जाये इससे आपकी एकाग्रता भी बनी रहेगी और भविष्य के लिए नोट्स तैयार हो जायेगे।
  • कोई भी पाठ कम से कम 3 बार पढ़े।
  • रटने की आदत से बचे, जो भी पढ़े उस पर थोड़ा विचार जरूर करे।
  • छोटे नोट्स ज़रूर बनाये जैसे की वो परीक्षा के समय काम आये।
  • पढ़े हुए पाठ पर सोच और चर्चा करे अपने दोस्त के साथ समूह में चर्चा करना बहुत ही ज़रूरी होता है।
  • पुराने प्रश्न पत्र के अनुसार इम्पोर्टेन्ट टॉपिक को चुने और उन्हें अच्छे से तैयार कर ले।
  • सही खाना ले क्योकि ज्यादा खाने से नींद या आलस्य आने लगता है जबकि कम खाने से पढ़ने में मन लगता है।
  • तस्वीर, नक्शा, ग्राफ आदि की सहायता से पढ़ाई करे। ये ज्यादा समय तक दिमाग में रहता है।
  • पढ़ाई में कंप्यूटर और इंटरनेट की सहायता ले सकते है।


पढ़ाई के नोट्स हाथों से लिखे - किसी के बनाये नोट्स लेने की बजाए अपने हाथो से अपने नोट खुद बनाये। ऐसा करने से आपके दिमाग में लिखते समय ही बहुत सी बाते याद हो जाएगी। क्योकि याद करने की सबसे अच्छी विधि लिखकर याद करना ही माना गया है। अपने हाथो से अपने नोटस बनाने का यह फायदा है कि जब आप उस विषय को याद करने के लिए बैठेंगे तो आपको याद करने में मदद मिलेगी।


अचानक ही अपनी परीक्षा स्वयं लीजिये - ये जानने के लिए की आपको कितना याद हुआ है आपको अपनी परीक्षा खुद ही लेना चाहिए और इस टेस्ट को उस परीक्षा से पहले ले जिसमे आप हिस्सा लेने जा रहे हो। आप के लिए जरुरी है कि अपना परीक्षा प्रश्न पत्र खुद ही तैयार किया जाए और उसमे वो प्रश्न रखे जाने चाहिए जो आपको सबसे कठिन लगते हो। प्रश्न पत्र हल करते समाय जिस जगह पर आपको कठिनाई दिखती हो उस को परीक्षा ख़तम होने के बाद ज्यादा ध्यान लगाकर पढ़िए।


दोस्तों इस आर्टिक्ल को पढ़ने करने के बाद आप आसानी से जान पाओगे पढाई करने के आसान तरीके इसलिए दी गई पूरी जानकारी को थोड़ा ध्यान लगाकर पड़ने की जरूरत है।

Read Also: जानिये सफलतापूर्वक अंग्रेजी बोलना कैसे सीखे - आसान तरीके

Take a Look on Below Table

Government Jobs Private Jobs
Engineering Jobs 10th / 12th Pass Jobs
Employment News Rojgar Samachar
Railway Jobs in India Upcoming Sarkari Naukri
Upcoming Bank Jobs Graduate Degree Jobs
Written Exam Preparation Tips Career Management Tips
English Improvement Tips Interview Preparation Tips

0 comments:

Post a Comment