करियर बड़ा या देश?


करियर बड़ा या देश

युवाओ में देशसेवा का जज्बा कम होता जा रहा है। इसका कारण युवाओं की जीवन में आया बदलाव भी है। आज का युवा बहुत तेजी से रुपया, प्रसिद्धि चाहता है। ग्लोबलाइजेशन के इस दौर में आज का युवा देश सेवा से ज्यादा रुपयों की ओर रुख कर रहा है।

युवा आपमें देश के लिए बहुत कुछ करना चाहते हैं, इसलिए उनकी एक राय यह भी है कि सेना के अलावा भी किसी क्षेत्र में रहते हुए देश के विकास में पूरा योगदान दे सकते हैं, बशर्ते कि वे अपने क्षेत्र में ईमानदारी से कार्य करें। देशभक्ति पर जीवन भारी- यश कहते हैं कि भारतीय सेना यानी बेहतर जीवन, डिसिप्लिन के साथ सम्मान की जिंदगी, लेकिन आज व्यावसायिक पाठ्यक्रम के आने के बाद छात्र को लगता है कि सेना में लाइफ बनाना इजी नहीं है, क्योंकि कठिन प्रशिक्षण और अपनों से दूर जाना उन्हें रास नहीं आता वे देशभक्ति की जगह मोटी कमाई को तवज्जो दे रहे हैं। जिन युवाओं में सेना का जुनून और देश के लिए मर मिटने का जज्बा होता है जब वे परिवारवालो से यह बात कहते हैं तो उनके घरवाले चाहते हैं कि वे सेना की बजाय दूसरे क्षेत्र में लाइफ बनाएं।


किसी भी कार्य में ईमानदारी जरूरी: अन्य छात्र Ravi Sharma कहते हैं वर्तमान युग में युवा इंडियन आर्मी में नहीं जाना चाहते हैं, हालांकि देशभक्ति का यह पैमाना कतई नहीं है कि हर युवा आर्मी में जाए। देश की सेवा किसी भी रूप में हो सकती है, जिसके लिए हमें अपने क्षेत्र में सत्यता से कार्य करने की जरूरत है। व्यक्ति के लिए वास्तव में नाम पैसे के साथ-साथ समाज देश के प्रति कुछ कर पा लेने की संतुष्टि और गर्व होना भी जरूरी है।

कम नहीं हुआ जुनून: छात्र शुभम कहते हैं कि व्यक्तियों में एक बात यह है कि वे खुद की मर्जी के मालिक कुछ ज्यादा ही होते हैं। इसका कारण हमारी जीवन में आया बदलाव भी है। आज करना है तो बस करना है कि तर्ज पर जिंदगी जीने वाले युवा कहीं भी फोकस नहीं कर पाते या फिर असमंजस की स्थिति में पड़ जाते हैं, इसलिए वे लाइफ में देशभक्ति career में से किसी एक का चुनाव नहीं कर पाते हैं, वहीं दूसरी ओर आज भी युवा तिरंगे को देखकर मांचित होता है।
राष्ट्रगान सुनकर एक बार सावधान की स्थिति में खड़ा होना चाहता है, लेकिन उसे लगता है कि साथ देने वाला कोई नहीं है तो मन मारकर वह देशभक्ति करने से रह जाता है।


भ्रष्टाचार है कारण: स्टूडेंट मोनिका कहती हैं कि आज भगतसिंह जैसे लोग पैदा नहीं हो सकते लेकिन सफ़ेद कॉलर लोगों के भरोसे भी यह देश नहीं चलना है। लाइफ बनाने के बाद भी हर युवा को देश की सेवा देश में रहना कम पसंद आता है। इसके लिए युवा जिम्मेदार नहीं हैं। इसका कारण भ्रष्टाचार भी है, लेकिन कई युवा इस दौर में भी अपनी पसंद के करियर के साथ भी देशसेवा कर रहे हैं। वे जता रहे हैं कि देशसेवा भी उनके लिए महत्वपूर्ण है।

Take a Look on Below Table

Government Jobs Private Jobs
Engineering Jobs 10th / 12th Pass Jobs
Employment News Rojgar Samachar
Railway Jobs in India Upcoming Sarkari Naukri
Upcoming Bank Jobs Graduate Degree Jobs
Written Exam Preparation Tips Career Management Tips
English Improvement Tips Interview Preparation Tips

0 comments:

Post a Comment