जानिए कैसे बनाये अकाउंट्स में करियर - आसान तरीके


जानिए कैसे बनाये अकाउंट्स में करियर

दोस्तों इस संसार में हर तरह के इंसान होते है और सबकी पसंद / सोच अलग अलग होती है। हर कोई अपनी लाइफ में कुछ ना कुछ करने का जज्बा रखता है
और सभी की ये ही इच्छा होती है की उसका करियर बेहतर बने। बहुत से लोगो की इच्छा होती है एकाउंट्स में अपना करियर बनाने की।  इसलिए हम बता रहे है क़ी सभी को अपने टारगेट के अनुसार मार्ग पर चलना चाहिए जिससे वे अपना करियर अपनी इच्छानुसार बनाने में सफल होंगे दोस्तो इस आर्टिकल के माध्यम से कुछ टिप्स उन लोगो को प्रदान करने है रहे है जिन्हे एकाउंट्स में रूचि है और वो एकाउंट्स में अपना करियर बनाना चाहते है। हम आशा करते है की इस लेख को पूरा पढ़ने के बाद आप लोग अपने अच्छे करियर के लिए एक अच्छा मार्ग प्राप्त करने में सफल हो सकते हो एकाउंट्स में करियर बनाने के लिए या एक अकाउन्टेन्ट बनने के लिए उच्च शिक्षा औपचारिक प्रमाणीकरण तथा इस उद्योग में दृढ प्रतिबद्धता होना अनिवार्य है। तो चलिए जानते है कुछ टिप्स जिससे आप सफल अकाउन्टेन्ट बनने में मदद ग्रहण कर सकते है।
जानिए कैसे बनाये अकाउंट्स में करियर 
अगर आपने निश्चय कर लिया है कि आपको एक अकाउंटेंट ही बनना है तो एकाउंटिंग में भी बहुत से ऑप्शन होते है। तो इसलिए तुमको सबसे पहले ये देखना है की आपको किस क्षेत्र में करियर सेट करना है आपको यह निश्चय करना है कि आपको किस क्षेत्र में जाना है। तो आप ये सब फाइनल कर ले और उसके बाद अपनी सोच को आगे बढ़ाये। फिर किसी चार साल के मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय कार्यक्रम में एडमिशन ले और लक्ष्य बनाये की आपको अकाउंटेंट, अर्थशास्त्र, बिजनेस मेन डिग्री चाहिए। अगर आप एक स्नातक हो तो ये आपके लिए और भी अच्छा है आगे बढ़ने के लिए आप अतिरिक्त क्लास ले सकते है और अपनी कुशलता को संख्यात्मक और अन्य खाता संबंधित विषय में उसे पूरा कर सकते है। दोस्तों अपनी क्लास में गणित या व्यापार संबंधित विषय में बड़ी ग्रेड लेनना जरूरी है क्योकि अकाउंट के क्षेत्र में करियर बनाने के लिए आपका गणित में अच्छा होना अनिवार्य है।


दोस्तों ज्यादातर एकाउंटेंट महाविद्यालय जाकर ग्रेजुएट डिग्री लेते है ये एक न्यूनतम आवश्यकता है अगर आप एक चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने की इच्छा रखते हो कुछ राज्यों में स्नातक के अलावा उच्च पाठ्यक्रम की जानकारी होना जरूरी है फिर चाहे आपके पास वित्तीय रिपोर्टिंग, टैक्स, ऑडिटिंग या अन्य गैर एकाउंटिंग क्षेत्रो में स्नक्तत्ता हो। दोस्तों हम आपको बता रहे है कि सभी एकाउंटेंट तथा चार्टर्ड अकाउंटेंट एक या एक से अधिक उपविषयों में विशेषता चुनते है। दो सामान्य विशेष क्षेत्र है सार्वजनिक लेखा या कॉर्पोरेट या व्यापार लेखांकन। इसके अतिरिक्त कई उपविषये क्षेत्र भी है जैसे की पर्यावर्तन एकाउंटिंग, अंतरिया ऑडिटिंग, प्रबंधकीय एकाउंटिंग तथा टेक्सेस आदि।

एकाउंटेंट और चार्टर्ड अकाउंटेंट के बीच चुने - दोस्तों एकाउंटेंट हमेसा केवल एकाउंटिंग विभाग में ही सलेक्ट किये जाते है। एकाउंटेंट और चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने के लिए आपके पास राज्य प्रमाण पत्र या लाइसेंस होना अनिवार्य नहीं होता है। परन्तु वे अव्दित नहीं कर सकते। चार्टर्ड अकाउंटेंट के पास केवल महाविद्यालयों की डिग्री होनी चाहिए बल्कि चार्टर्ड अकाउंटेंट के सभी परीक्षाओ में पास होना जरूरी होता है तथा किसी लाइसेंस चार्टर्ड अकाउंटेंट के तहत 1800 घंटे काम करने का अनुभव होता है। चार्टर्ड अकाउंटेंट अव्दित भी कर सकता है एवं अपने ग्राहकों के लिए आई आर अस के सामने पेश हो सकते है। इनमे से एक चुनने के लिए आपको ये जानना जरूरी है कि आपकी महत्वकांशा रुझान तथा व्यक्तित्व किस तरफ है।


अपने एग्जाम की तैयारी अच्छे से करे - दोस्तों पहली बात तो ये कि किसी भी हालत में अप्रस्तुत रहे साथ साथ आप एग्जाम के लिए क्रीमिंग  ना करे आपने जो कुछ भी पढ़ा है उसको एग्जाम के एक दिन पहले ज़रूर संशोधन कर ले ताकि आपके दिमांग में वो बाते सेट रहे।

योग्यता परीक्षा ले लो - प्यारे साथियो विभिन्न देश में और लेखा संगठन में विभिन्न एग्जाम प्रारूप होते है और वो सब चाहते है की आप उनके द्वारा लिए गए मूल्यांकन टेस्ट में सफलता प्राप्त करे। ऐसे टेस्ट में हर गलत उत्तर के लिए 0.25 अंक काट लिए जाते है। इसलिए ऐसे एग्जाम में आप इतना ही लिखे जितना आपको सही पता हो।

किसी ज्ञानी पुरुष की सलाह लीजिये - दोस्तों तुमको एक ऐसा गुरु ढूंढना जरूरी है जो आपके करियर को बनाने में आपकी मदद करे. इस क्षेत्र में आपके लिए एक गुरु का साथ बहुत अच्छा साबित हो सकता है।


चार्टर्ड अकाउंटेंट परीक्षा उत्तीर्ण करिये - साथियो ये हर राज्य के लिए जरूरी होता है कि आपको चार्टर्ड अकाउंटेंट के चारों भागो की परीक्षाओं में सफलता प्राप्त करना जरूरी है। ये परीक्षा हर तिमाही के प्रथम दो महीनो में होती है। परीक्षार्थी किसी भी प्रणाली में इनमे हिस्सा ले सकते है। और एक परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद बाकि अतिरिक्त परीक्षाएं अगले 18 महीनो में देनी अनिवार्य होती है। इस परीक्षा की तैयारी के लिए आप प्राइवेट इंस्टिट्यूट / कोचिंग सेंटर की मदद ले सकते है।

इंटर्नशिप करे - दोस्तों ग्रेजुएट डिग्री प्राप्त करने से पहले एकाउंटिंग इंटर्नशिप कर ले या किसी और तरह से अनुभव ले ताकि आपका बायो डाटा आकर्षक लगे। बायोडाटा अद्यतन कर विभिन वेबसाइटों में अपलोड करे जिससे की आप नौकरी के लिए अप्लाई कर सके।

नौकरी के साथ पढ़ाई करे - दोस्तों नौकरी मिलने के बावजूद भी पढ़ाई छोड़ने की भूल करे। अगर अपने चार्टर्ड अकाउंटेंट ना किया हो तो वो कर ले। या फिर पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री या प्रमाणपत्र कोर्स करे।

Read Also: जानिए क्या करे अगर आप का दिमाग पढाई के समय इधर उधर जाये

विभिन्न क्षेत्र उपलब्ध है - दोस्तों हम आपको इन्फॉर्म कर रहे है कि एकाउंटिंग के विभिन्न क्षेत्रों में आप अपना करियर बना सकते है जैसे की ऑडिटिंग, टैक्सेशन, फोरेंसिक एकाउंटिंग।

अन्य कुशलताएँ - एक योग्य अकाउंटेंट या चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने के लिए गणित का ज्ञान होना बहुत जरूरी` है विश्लेषणात्मक कौसल होना भी ज़रूरी है। दूसरो से वार्तालाप करने का हुनर होना चाहिए। 

अन्य उपाध्याय - एकाउंटिंग डिग्री होने के बावजूद एक पॉजिटिव व्यवसाय बनाने के लिए अन्य डिग्री जैसे CFA, CGMA, CIA, CISA, CMA, CPP, MBA, PMP भी होना अच्छा है।

लागत लेखाकार प्रतिबंध धीरे शार्क - एक लागत और प्रबंधन एकाउंटेंट का काम होता है किसी भी चीज़ को बनाने की लागत का हिसाब रखना, उस चीज की सही कीमत लगाना, टैक्सेशन प्रमाणपत्र लेना आदि। एक चार्टर्ड अकाउंटेंट की बजाए एक लागत लेखाकार की आवश्य्कता लगभग हर विभाग में होती है जैसे विपणन, उत्पादन, खरीद आदि


कंपनी सचिव - दोस्तों कंपनी सचिव वह होता है जो प्रबंधकों तथा समूह के मालिकों के बीच में दलाल की तरह काम करता है। कंपनी सचिव काम कानूनी दस्तावेजों को संभालना साझेदारी करवाना, जन समुदाय के हितों का ध्यान रखना होता है।

प्रमाणित वित्तीय योजनाकार प्रतिबंध - इस पाठ्यक्रम में आपको टैक्स प्लान, बीमा योजना, भूमि भवन बिक्री व्यापार की अच्छी जानकारी दी जाती है। इससे तुम बैंक अन्य संस्थानों में अच्छी नौकरी हासिल कर सकते हो।

चार्टर्ड वैकल्पिक निवेश विश्लेषक प्रतिबंध - दोस्तों इनका काम होता है विश्लेषग्य विकल्पीय निवेश नीतियों की जानकारी एवं सलाह देना।

सॉफ्टवेयर का ज्ञान - आज के इस तकनीकी दयुग में विभिन्न एकाउंटिंग कंप्यूटर सॉफ्टवेयर का ज्ञान होना बहुत ही जरूरी है।


अन्य क्षेत्रों में लेखांकन - दोस्तों एकाउंटिंग की पढ़ाई से आपन अन्य क्षेत्रों में भी नौकरी कर सकते हो जैसे खुदरा बैंकिंग, बीमा, शेयर बाजार, बीमांकिक निवेश नीतियां आदि।

वैकल्पिक क्षेत्र - अन्य पेशे जैसे विज्ञापन, सिविल सेवा, कानून आदि में भी एकाउंटिंग का ज्ञान आपका करियर बना सकती है।

अपने क्षेत्र में नेटवर्क - इस फिल्ड में अपने करियर को बनाने के लिए दूसरे एकाउंटेंट के साथ नेटवर्क बनाना चाहिए। आप जब अपने ही क्षेत्र के दूसरे पेशेवरों से मिलेंगे तब आपको काफी अच्छा अनुभव मिलेगा और तब आप इस क्षेत्र से जुडी अपनी किसी भी परेशानी का आसानी से सामना कर सकते है।

प्यारे साथियो अगर आप सच में ही अकाउंट्स में अपना करियर बनाना चाहते है तो ऊपर दी गई जानकारी को पुरे ध्यान के साथ पढ़े और फिर उसी प्रकार अपना मार्ग बनाए। ऊपर दी गई सारी जानकारी हासिल करने के बाद आप एक अच्छे अकाउंटेंट बन सकते हो।

Take a Look on Below Table

Government Jobs Private Jobs
Engineering Jobs 10th / 12th Pass Jobs
Employment News Rojgar Samachar
Railway Jobs in India Upcoming Sarkari Naukri
Upcoming Bank Jobs Graduate Degree Jobs
Written Exam Preparation Tips Career Management Tips
English Improvement Tips Interview Preparation Tips

0 comments:

Post a Comment